चमोली हादसे का अपडेट>>>हादसे में मौत का बड़ा आंकड़ा, चौकी इंचार्ज पीपलकोटी व उनके हमराह होमगार्कीडों की भी मौत, घायलों को हेलीकॉप्टर से भेजा जा रहा है ऋषिकेश एम्स।

न्यूज़ 13 प्रतिनिधि देहरादून

देहरादून/ मुख्यमंत्री धामी ने चमोली जनपद में हुई दुखद घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए मृतकों की आत्मा की शांति एवं उनके परिवारजनों को दुख की इस घड़ी में धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से कामना की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि चमोली जनपद में बिजली के करंट लगने से 15 लोगों के घायल एवं हताहत होने की सूचना मिली है। जिलाधिकारी चमोली को घटना की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें 👉 द्वाराहाट, गौ माता के साथ जौहरउदीन शाकिर अंसारी ने किया अमानवीय कृत्य, पुलिस ने किया गिरफतार, हिंन्दूवादी संगठनों में उबाल निकाली आक्रोश रैली।

बचाव दल घटनास्थल पर पहुंच गए हैं। घायलों को हायर सेंटर रेफर करने के लिए हेलीकॉप्टर की सेवाएं ली जा रही है। सरकार और प्रशासन के द्वारा राहत एवं बचाव कार्य किए जा रहे हैं।

अनुमन्य सहायता राशि शीघ्र उपलब्ध
जाएगी चमोली हादसे से जुड़ी बड़ी अपडेट आईजी गढ़वाल करन सिंह ने दी अहम जानकारी मामले में चौकी इंचार्ज पीपल कोटी प्रदीप रावत हमराह होम गार्ड मुकुंदी लाल की भी मौत हुई है दरअसल सुबह मौके पर एक इलेक्ट्रिशन गणेश का शव दिखा लोगो ने पुलिस प्रशासन को बुलाने की मांग की लोगो के साथ ही चौकी इंचार्ज भी हमराह के साथ पहुंचे और दोबारा करेंट फैल गया और इतना बड़ा हादसा हो गया।

यह भी पढ़ें 👉 उतराखंड के लिए मौसम विभाग ने जारी किया भारी से बहुत भारी बारिश का अलर्ट जारी।

चमोली के पीपलकोटी में हुए हादसे को लेकर एडीजी लॉन आर्डर ने मीडिया को बयान जारी करते हुए बताया कि देर रात चमोली के पीपलकोटी के नमामि गंगे प्रोजेक्ट में एक हादसा हुआ था जिसमे एक युवक की मौत हो गई जिसका पंचनामा भरने के लिए पुलिस की टीम सुबह मौके परधो पहुंची थी और मृतक के परिजन भी घटनास्थल पर मौजूद थे। इसी बीच अचानक सुबह एक बार फिर करंट फैल गया।

यह भी पढ़ें 👉 ऊखीमठ क्षेत्र में लगातार हो रही मूसलाधार बारिश से भारी नुकसान की सूचना है।

उन्होंने कहा कि इस बीच 22 लोग करंट की चपेट में आए गए जिनमें से 15 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी जबकि 7 लोगों को घायल अवस्था में अस्पताल ले जाया गया जिनमें से दो को हेलीकॉप्टर के जरिए हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है। उन्होंने आगे बताया कि इस पूरे मामले की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए गए हैं। चमोली नमामि गंगे परियोजना में करट फैलने से अब तक 16 लोगों की मृत्यु हुई है और 7 लोग झुलसे है। जिनमे से दो लोगों को हायर सेंटर एम्स ऋषिकेश रेफर किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *