उत्तराखंड में यहां पैसे दुगुना करने के नाम पर ठगी में पीआरडी जवान सहित तीन लोग गिरफ्तार, सरगना व एक पुलिसकर्मी फरार।

न्यूज़ 13 प्रतिनिधि उधम सिंह नगर

 रुद्रपुर/ पुलिस ने गरीबों की रकम को दोगुना करने का लालच देकर उनकी मेहनत की कमाई पर डाका डालने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है। इस मामले में पुलिस ने पीआरडी जवान सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरोह का मास्टरमाइंड के साथ ही एक पुलिसकर्मी फरार है। पुलिस ने आरोपियों के पास से डेढ़ लाख रूपए की नगदी भी बरामद की है। तीनों को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया। मामले का खुलासा करते हुए एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने बताया कि सेखवापुर तालगांव सीतापुर में रहने वाले इंद्रसेन वर्मा ने पुलिस को तहरीर दी थी।

यह भी पढ़ें 👉 पौड़ी जिला अस्पताल की घोर लापरवाही मोर्चरी में रखे शव को कुतर गए चूहे, शव की पहचान करना भी हुआ मुसकिल।

जिसमें कहा गया था वह और उसका दोस्त मो. हंजला सीतापुर के आसपास फेरी लगाने का काम करते हैं। हंजला ने उसे बताया कि उसका रूद्रपुर में रहने वाला दोस्त रकम को दोगुना करता है।उसे यह सुनकर लालच आ गया और इसके बाद दोनों अपने दो अन्य साथियों अंकित और शिवम के साथ दो लाख रूपए लेकर रुद्रपुर आ गए। विकास नाम के युवक ने उन्हें फोन कर काशीपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर पप्पू ढाबे के नजदीक आने को कहा। विकास कुछ देर बाद अपनी कार से पहुंचा और बैग लेकर कुछ देर इंतजर करने की बात कहकर चला गया।

यह भी पढ़ें 👉 बड़ी खबर, यहां अवैध खनन में पकड़ा गया ट्रक वन क्षेत्राधिकारी अधिकारी ने आपसी साठ गांठ कर बिना चालान के छोड़ा।

 कुछ देर बाद एक और युवक आया और उन्हें बैग देकर चला गया। जब वह बैग लेकर जाने लगे तभी स्कूटी सवार दो युवकों ने उन्हें तलाशी लेने के बहाने रोक लिया। उनमें से एक वर्दी में था जबकि दूसरा स्कूटी चला रहा था। इसी बीच उसका बैग छीनकर भाग निकले। लूट के मामले में पुलिस द्वारा मुकदमा दर्ज कर लुटेरों की तलाश में टीम गठित की गई। जिसके बाद पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर रुद्रपुर में तैनात पीआरडी जवान वीरेंद्र सिंह पुत्र जीत सिंह निवासी बिन्दुखेड़ा रूद्रपुर, जीशान अहमद पुत्र शमीम अहमद निवासी इटारी थाना तालगांव सीतापुर और छिन्दर पुत्र भजन सिंह

यह भी पढ़ें 👉 नैनीताल-बरेली राष्ट्रीय राजमार्ग पर भीषण सड़क हादसे में 8 लोगों की जिंदा जलकर हुई दर्दनाक मौत।

निवासी ढौराडॉम नजीमाबाद किच्छा को लंबाखेड़ा मोड़ से गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में पता चला कि इस गैंग में बनभूलपुरा थाने का पुलिस कर्मी सुरेंद्र सिंह पुत्र प्रीतम सिंह निवासी बिन्दुखेड़ा और विकास उर्फ लियाकत भी शामिल हैं। घटना के बाद से ही दोनों फरार चल रहे हैं जिनकी पुलिस तलाश कर रही है। बताया जा रहा है सुरेंद्र सिंह 2007 में पुलिस में भर्ती हुआ था। वह कुछ दिन से छुट्टी पर चल रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *