इस बार नैनीताल में पिछले वर्षों की भांति नए साल का नहीं होगा ज़श्न, न लाईटिंग होगी न अलाव की व्यवस्था।

NEWS 13 प्रतिनिधि नैनीताल:-

नैनीताल/ हर वर्ष नए साल के मौके पर सरोवर नगरी की रौनक चार गुना बढ़ जाती है। परन्तु इस साल विगत वर्षों की भांति रोमांच नजर नहीं आएगा। कोरोना के खतरे को भांपते हुए इस वर्ष मॉल रोड पर ना लाइटिंग की जाएगी न ही किसी तरह का संगीत बजाया जाएगा। होटल एसोसिएशन ने यह फैसला लिया है। बीते कई सालों से नैनीताल होटल एसोसिएशन द्वारा क्रिसमस से लेकर थर्टी फर्स्ट तक नैनीताल को सजाने का काम किया जाता था। जहां मॉल रोड को रंग बिरंगी लाइटों से सजाया जाता था तो साफ में म्यूजिक की भी व्यवस्था कराई जाती थी। पर्यटकों के लिए एसोसिएशन स्पेशल तैयारी कराता था। ठंड से पर्यटकों को बचाने के लिए मॉल रोड में जगह जगह पर अलाव की ब्वस्था की जाती थी। लेकिन साल 2019 में जिला प्रशासन ने थर्टी फर्स्ट के मौके पर सैलानियों के लिए कई कड़े प्रतिबंध किए थे। जिसके विरोध में होटल एसोसिएशन ने पहली बार मॉल रोड को नहीं सजाया था। इसके बाद साल 2020 में कोरोना के कारण होटल एसोसिएशन यह व्यवस्था नहीं करा पाया था।

यह भी पढ़ें 👉 : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने टिहरी के घनसाली में किया विभिन्न योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण।

इस बार भी साल के अंतिम दिनों में कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रोन का खतरा बढ़ता दिखाई दे रहा है। अब होटल एसोसिएशन ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए फैसला लिया है कि इस बार नए साल की पूर्व संध्या पर माल रोड में न तो लाइटिंग नजर आएगी और न ही संगीत सुनाई देगा। नैनीताल होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष दिनेश साह के मुताबिक संक्रमण का खतरा पूरी तरह टला नहीं है। ऐसे में अगर मॉल रोड पर लाइटों व म्यूज़िक से चकाचौंध की गई तो सैलानी अधिक मात्रा में इकठ्ठा होंगे। जिससे आने वाले समय में परेशानी बढ़ सकती है। इसलिए एहतियात बरतते हुए उक्त फैसला लिया गया है।

यह भी पढ़ें 👉 : हल्द्वानी में किशोरी के घर में घुसकर दुष्कर्म करने वाले को पुलिस ने किया गिरफ्तार।

Leave a Reply

Your email address will not be published.