पुलिस ने लाखों की चरस के साथ यहां किया जिलापंचायत सदस्य को गिरफ्तार।

NEWS 13 प्रतिनिधि हल्द्वानी:-

काशीपुर/ यहा बीते दिनों से राज्य मेंं चरस और गांजा के तस्करी के केस लगातार सामने आ रहे हैं। इसके लिए पुलिस के द्वारा बहुत से अभियान भी चलाए गए और काफी नशा तस्करों को पकड़ा भी है। परन्तु इसके बाद भी नशे की तस्करी रुकती नहीं लिखूं दे रही है। पड़ोसी राज्यों से नशे की खेप को उत्तराखंड में पहुंचाया जा रहा है। जिससे राज्य के युवाओं का भविष्य बर्बाद हो रहा हैं। हाल ही में  ऊधमसिंहनगर का मामला सामने आया है। और अब काशीपुर में पुलिस ने यूपी के एक जिला पंचायत सदस्य को चरस की तस्करी करते हुए पकड़ा है। आरोपी का नाम अमरनाथ बताया जा रहा है और ए यूपी के महाराजगंज के श्रितिया बुजुर्ग थाना फरेन्दा का रहने वाला है। कुछ दिन पूर्व काशीपुर पुलिस नशे के तस्करों के खिलाफ जांच अभियान में लगी हुई है। इतने में मुखबिर से पुलिस को सूचना मिली की एक व्यक्ति नैनीताल घूमने के बहाने बड़ी खेप में चरस बेचने आ रहा है। खबर मिलते ही पुलिस की टीम रवाना हुई और चरस ले जा रहे आरोपी अमरनाथ को दबोचा लिया।

यह भी पढ़े 👉 : यहां फिर आए 04 छात्र कोरोना पॉजिटिव।

पुलिस ने बताया कि आरोपी वर्तमान में उप्र के फरेन्दा का जिला पंचायत सदस्य है। वो नैनीताल घूमने के बहाने यहां चरस की तस्करी करने के लिए आया था। तलाशी में पुलिस को आरोपी के पास से 1.25 किलोग्राम चरस मिली। बाजार में चरस की कीमत 1,30,000 रुपये आंकी गयी है। आरोपी के खिलाफ मादक द्रव्य अधिनियम के तहत केस दर्ज किया गया है। उत्तराखंड के मैदानी क्षेत्रों में नशा तस्करी के मामले पिछले साल से कुछ ज्यादा ही सामने आ रहे हैं।

यह भी पढ़े 👉 : यहां पुलिस व नारकोटिक्स सेल को मिला नशें का जखीरा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.