मंत्री मंडल में शामिल न करने पर बिशन सिंह चुफाल का छलका दर्द, सीधे धामी और भगतसिंह कोश्यारी पर साधा निशाना।

NEWS 13 प्रतिनिधि देहरादून:-

देहरादून/ राज्य में नई सरकार का आज शपथ ग्रहण समारोह हुआ है जिसमें 8 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली है शपथ लेने वाले मंत्रियों में इस बार 3 नये चेहरों को शामिल किया गया है। जबकि कई पुराने चेहरों को बाहर का रास्ता दिखाया गया है। बीजेपी के वरिष्ठ नेता बिशन सिंह चुफाल भी इन्हीं में से एक हैं बिशन सिंह चुफाल पिछली धामी सरकार में मंत्री थे ऐसे में मंत्रिमंडल में जगह न मिलने के बाद बिशन सिंह चुफाल का दर्द सरेआम छलक गया है। चुफाल ने मंत्रिमंडल में शामिल न किये जाने को लेकर कई सवाल खड़े कर दिए हैं। चुफाल ने साफ कहा है कि उन्हें मंत्रिमंडल से बाहर करने के क्या कारण उनको पता नहीं है। लेकिन चुफाल इस पर पार्टी से सवाल जरूर करेंगे बिशन सिंह चुफाल ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वह पार्टी से एक बार जरूर पूछेंगे कि आखिरकार उन्हें किस आधार पर मंत्रिमंडल से बाहर किया गया चुफाल ने यह भी साफ किया कि पार्टी में उनके कुछ शुभचिंतक भी हैं जो उन्हें मंत्रिमंडल में नहीं चाहते थे।

यह भी पढ़ें 👉 : यहां पानी की समस्या से जूझ रही महिलाओं ने जेई को चुड़िया भेंट करते हुए चेताया पानी नहीं आया तो कार्यालय में कर देंगें तालाबंदी।

उनका इशारा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और भगत सिंह कोश्यारी की तरफ था। यही नहीं बिशन सिंह चुफाल ने कहा मंत्रिमंडल से बाहर करने को लेकर जो चर्चाएं चल रही हैं कि उन्हें उम्र के चलते बाहर किया गया। तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं है अगर ऐसा होता तो सतपाल महाराज भी उनके हम उम्र हैं। ऐसे में चुफाल को कैसे मंत्रिमंडल में जगह दी गई?? हालांकि उन्होंने यह भी साफ किया कि वह पार्टी के सच्चे कार्यकर्ता है उन्होंने पार्टी के लिए डंडे-झंडे उठाए हैं वे हर वक्त पार्टी के साथ खड़े रहे हैं बिशन सिंह चुफाल के मंत्रिमंडल में शामिल न होने के बाद उनके समर्थक देहरादून में जुटना शुरू हो गये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.