पिथौरागढ़ के मूल निवासी भट्ट परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़, भीषण हादसे मे मां बेटे की दर्दनाक मौत।

NEWS 13 प्रतिनिधि दिल्ली:-

दिल्ली/ राजधानी दिल्ली से एक दिल को दहला देने वाली दुखद खबर सामने आ रही है यहां मूल रूप से उत्तराखंड के रहने वाले एक परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट गया है। बताया गया है कि यह हृदयविदारक दुर्घटना उस समय हुई जब बीते रोज दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन इलाके में बारापुला फ्लाईओवर पर एक अनियंत्रित तेज़ रफ़्तार कार ने ऑटो को जबरदस्त टक्कर मारने के बाद आगे जा रही एक कैब को टक्कर मार दी।

यह भी पढ़ें 👉 : बेरोजगारी से बेहाल उतराखंड, भर्ती निकाली 1521 पदों के लिए आवेदन आए 2.58 लाख।

टक्कर से जहां ओर ऑटो के परखच्चे उड़ गए और उसमें सवार यात्री टक्कर से काफी दूर जा गिरे वहीं एक 13 वर्षीय किशोर का सिर धड़ से अलग हो गया जबकि हादसे में मृतक किशोर के पिता व भाई के साथ ही ऑटो चालक गंभीर रूप से घायल हो गया। मृतक की मां ने भी अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। हादसे की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस विभाग की टीम ने आरोपी कार चालक नोएडा सेक्टर-78 निवासी मुकूल तोमर को गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़ें 👉 : उत्तराखंड में नवनिर्वाचित विधायकों को कल दिलाई जाएगी शपथ।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक मूल रूप से उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले के घुनवारा गांव निवासी जनक जनार्दन भट्ट वर्तमान में अपने परिवार के साथ ई 616, वेस्ट विनोद नगर में रहते हैं। परिवार में उनकी पत्नी गीता व दो बेटे कार्तिक और आयुष थे। बताया जा रहा है कि नोएडा की एक मल्टी नेशनल कंपनी में नौकरी करने वाले जनक बीते रोज अपने पूरे परिवार के साथ दक्षिणी दिल्ली के साकेत इलाके में रहने वाले अपने बड़े भाई मुकेश के घर गए थे।

यह भी पढ़ें 👉 : हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज में रैगिंग के वायरल वीडियो को लेकर मुकदमा दर्ज।

दिन भर स्वजनों के साथ होली खेलने के बाद जैसे ही वह शाम को आटो से वापस अपने घर लौट रहे थे तो बारापुला फ्लाईओवर पर यह दर्दनाक हादसा हो गया। जिसमें जनक के 13 वर्षीय मासूम बेटे करन का सर धड़ से अलग हो गया और उसकी मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। जबकि जनक व उनकी पत्नी गीता एवं 19 वर्षीय कार्तिक सहित आटो चालक वकार आलम गंभीर रूप से घायल हो गए। जिन्हें एम्स ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया जहां करन उर्फ आयुष की मां एवं जनक की पत्नी गीता ने उपचार के दौरान दम तोड दिया। हादसे की खबर से मृतकों के स्वजनों सहित उनके पैतृक गांव भी गमगीन हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.