सशक्त भू-कानून को लेकर उतराखंड महिला मंच के सदस्यों ने पारम्परिक वेशभूषा में लोकनृत्य करते हुए गांधी पार्क से शहीद स्थल तक निकाली रैली।

NEWS 13 प्रतिनिधि चमोली:-

चमोली/ राज्य में भू कानून की मांग दिन-प्रतिदिन जोर पकड़ते जा रही है। चाहे सरकार ने इस पर समिति बना रखी है समिति व सरकार की कार्यप्रणाली से लोग बिलकुल भी संतुष्ट दिखाई नहीं दे रहे। अब देहरादून में आज उत्तराखंड महिला मंच की सदस्यों ने गांधी पार्क गेट से शहीद स्थल तक अपनी पहाड़ी वेशभूषा में सशक्त भू कानून की मांग को लेकर रैली निकाली। उत्तराखंड राज्य बनने के बाद से ही उत्तराखंड में एक सस्क्त भू कानून की मांग उठती रही है लेकिन उस वक्त से अभी तक यह मुद्दा धरातल पर अपनी पकड़ नहीं बना पाया। करीब 6 महीने पहले उत्तराखंड के युवाओं द्वारा सोशल मीडिया पर सख्त भू कानून के लिए आवाज उठाई थी। और युवाओं की यह मुहिम रंग लाई और धरातल पर उतरने में कामयाब रही।

यह भी पढ़ें 👉 : राज्य में 2022 के विधानसभा चुनाव में 50 प्रतिशत बूथ सीसीटीवी कैमरे के जरिए सीधे होंगे चुनाव आयोग की निगरानी में।

युवाओं की मांग की गूंज मुख्यमंत्री तक भी पहुंची और उन्होंने समिति का गठन कर लोगों से इस मामले में सुझाव मांगे। इसके बाद सभी को यह उम्मीद थी कि शीतकालीन सत्र में इस मुद्दे को लेकर विधेयक लाया जाएगा परन्तु यहां भी निराशा ही हाथ लगी जिसके चलते अब सरकार की मंशा पर सवाल उठने लगे। उत्तराखंड में भू कानून की मांग को लेकर तमाम संगठनों का सहयोग मिल रहा है। आज उत्तराखंड महिला मंच के सदस्यों ने पारंपरिक वेशभूषा में लोक नृत्य करते हुए देहरादून में गांधी पार्क से शहीद स्थल तक रैली निकाली। अपनी संस्कृति व सम्मान के साथ ही पहचान और भूमि को बचाने के लिए महिला मंच के स्थापना दिवस पर शहर में भव्य सांस्कृतिक रैली निकाली गई।

यह भी पढ़ें 👉 : राज्य में 2022 के विधानसभा चुनाव में 50 प्रतिशत बूथ सीसीटीवी कैमरे के जरिए सीधे होंगे चुनाव आयोग की निगरानी में।

Leave a Reply

Your email address will not be published.