जनता कैबिनेट पार्टी का अब हो चुका आगाज, कांग्रेस बीजेपी का अंतिम चुनाव, महिला शक्ति को पहचान दिलाना जनता कैबिनेट पार्टी की प्राथमिकता।

NEWS 13 प्रतिनिधि अल्मोड़ा:-

अल्मोड़ा/ कांग्रेस भाजपा ने कभी महिलाओं को प्रधानी से आगे नहीं दिया बड़ने, जेसीपी लौटाएगी महिलाओं का सम्मान कैबिनेट पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्षा भावना पांडे ने होटल शिखर में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान कहा जनता कैबिनेट पार्टी की वार्ता के दौरान भावना पांडे ने कहा कि वह एक महिला हैं और उत्तराखंड में महिलाओं के प्रति पूर्व राज कर रही भाजपा और कांग्रेस ने कभी भी सद्भावना नहीं रखी, उन्होंने आगे बताया कि जनता कैबिनेट पार्टी महिलाओं के मुद्दों को लेकर बहुत जागरूक है, और पार्टी रजिस्टर होने तक उत्तराखंड की तमाम आशा कार्यकर्ता, भोजन माता, पाटन दाइयां एवं आंगन बाड़ी कार्यकर्ता महिलाएं पार्टी के साथ कंधे से कंधे मिलाकर खड़ी हैं।

यह भी पढ़े 👉 : अल्मोड़ा जनपद में डाकघरो मे 328 विधिक सेवा केंद्र किए जाएंगे स्थापित।

भावना पांडे ने आगे बताया कि किस तरह उत्तराखंड की लाखों महिलाएं उनसे जुड़ चुकी हैं, और तीलू रौतेली को अपना आदर्श मानने वाली भावना पांडे का यही मानना है कि यह मौका अब महिलाओं के लिए है। जनता केबिनेट पार्टी उत्तराखंड में 70 सीटों पर चुनाव लड़ेगी जबकि खुद की लड़ने की कोई भी इच्छा न जाहिर करते हुए उन्होंने कहा वह संगठन को मजबूत करने का कार्य करेंगी। उत्तराखंड की राजनीति में सक्रिय होने का कारण भाजपा और कांग्रेस की इतने वर्षों की निष्क्रियता को बताया, उन्होंने बताया कि भाजपा और कांग्रेस पिछले 20 वर्षों से उत्तराखंड की जनता को छलने का काम कर रही है।

यह भी पढ़े 👉 : आधार कार्ड नहीं बनने से लोगों में रोष, 12 अक्टूबर को धौलादेवी में लगने वाला जनता दरबार का करेंगे विरोध।

और जनता के पास कोई सुदृढ़ विकल्प न होने की वजह से एक के बाद एक इनको मौका दिया जाता रहा है। भावना पांडे ने आगे कहा कि अब जनता इनकी दल बदलू मनसा को बहुत अच्छी तरह से भांप चुकी है और अब जनता ऐसे सिक्के को निकाल बाहर फेकेंगी जिसका एक पहलू भाजपा और दूसरा कांग्रेस है, अब जनता का सिक्का चलेगा यानी जनता कैबिनेट पार्टी का सत्ता में आना निश्चित है। भावना पांडे ने बताया कि कैसे वह एक गरीब परिवार से निकलकर फिर आंदोलन और फिर कड़ी मशक्कत के बाद इस मुकाम पर पहुंची हैं, उत्तराखंड के दर्द को लेकर जेसीपी का निर्माण किया गया है, और उन्हें खुद न तो विधायक बनना है और न मुख्यमंत्री, वो बस सेवा भाव से उत्तराखंड की जनता का साथ देना चाहती हैं। विधायकों का और संगठन के बारे में पूछे जाने पर उनका कहना था कि भाजपा और कांग्रेस के कई बड़े विधायक उनके साथ वार्ता में हैं और जल्द ही देहरादून में होने वाली रैली में कुछ विधायकों की पार्टी में विधिवत ज्वाइनिंग होनी निश्चित हुई है।

यह भी पढ़े 👉 : प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का विधिवत् भूमि पूजन, प्रारम्भ करवाया निर्माण कार्य।

Leave a Reply

Your email address will not be published.