एसएसजे विश्वविद्यालय अल्मोड़ा द्वारा संचालित अकादमिक एवं शैक्षणिक गतिविधियों के संचालन के लिए राज्यपाल ने की प्रशंसा।

NEWS 13 प्रतिनिधि अल्मोड़ा:-

अल्मोड़ा/ राजभवन में उत्तराखंड के राज्यपाल लेफ्टिनेंट जरनल गुरमीत सिंह (रिटायर्ड) के साथ सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय, अल्मोड़ा के कुलपति प्रोफेसर नरेंद्र सिंह भंडारी ने मुलाकात कर विश्वविद्यालय के द्वारा संचालित समस्त पाठ्यक्रमों, गतिविधियों, कार्यक्रमों की विस्तार से जानकारी दी। राजभवन में उत्तराखंड के राज्यपाल लेफ्टिनेंट जरनल गुरमीत सिंह (रिटायर्ड) को पुष्प गुच्छ देकर अभिनंदन करते हुए कुलपति प्रो. भंडारी द्वारा विश्वविद्यालय के क्रिया कलापों के संबंध में विस्तार से प्रतुतिकरण दिया गया।

यह भी पढ़े 👉 : यहां शादी का झांसा देकर युवती के साथ दुष्कर्म करता रहा मेरठ का युवक।

इस दौरान कुलपति ने विश्वविद्यालय द्वारा संचालित विवेकानंद शोध एवं अध्ययन केंद्र, हरेला पीठ की स्थापना, नमामि गंगे कार्यक्रम का संचालन, मीत पीपल अभियान, ग्रीन कैंपस क्लीन कैम्पस अभियान, वर्षा जल संग्रहण कार्यक्रम, विभिन्न विभागों द्वारा कोविड-19 के दौरान किये गए कोविड इनिशिएटिव केअर कार्यों, पर्यावरण, जल संसाधनों, आजादी के अमृत महोत्सव, हिंदी पखवाड़ा, राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 एवं मानसिक तनाव को लेकर वेबिनारों, वृक्षारोपण अभियानों, गोद लिए ग्रामों में किये गए कार्यों, सीमांत जनपदों में खेल गतिविधियों के संचालन, राष्ट्रीय जल मिशन के कार्यक्रम, नदियों के सफाई अभियान, अनेक शैक्षणिक संस्थाओं के साथ शोध गतिविधियों के आदान-प्रदान के लिए किये गए एमओयू हस्ताक्षर, विश्वविद्यालय द्वारा बी.एड, एम.एड, पीएच.डी की प्रवेश परीक्षाओं के सफल संचालन आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी। साथ ही कुलपति ने विश्वविद्यालय में किये गए कार्यों का विवरण, विश्वविद्यालय की स्थापना से वर्तमान तक की उपलब्धियों का विवरण, विश्वविद्यालय में संचालित के कार्यकर्मों, विश्वविद्यालय के प्रशासनिक एवं शैक्षणिक ढाँचे का विवरण के संबंध में विस्तार से जानकारी दी।

यह भी पढ़े 👉 : पांच दिवसीय कार्यशाला का समापन, आशा दीदीयों को दिया गया शिशु देखभाल का प्रशिक्षण।

उन्होंने कहा कि राज्यपाल द्वारा उनसे पूछे गए उनके तीन ड्रीम प्लान के संबंध में जानकारी चाही। जिस पर कुलपति प्रो नरेंद्र सिंह भंडारी ने कहा कि विश्वविद्यालय के संरचनात्मक स्वरूप को अपने कार्यकाल में विकसित कर खड़ा करना, विश्वविद्यालय में युवाओं के भविष्य को देखते हुए रोजगारपरक पाठ्यक्रमों का संचालन करना, विश्वविद्यालय के परिक्षेत्र में आ रहे सभी संस्थानों के युवाओं, शिक्षकों, कर्मियों आदि को जलस्रोतों के पुनरूद्धार के लिए जागरूकता पैदा करना है। राज्यपाल ने एस.एस.जे विश्वविद्यालय, अल्मोड़ा और विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो नरेंद्र सिंह भंडारी के इन सभी प्रयासों की सराहना की और उन्हें बधाई दी। कुलपति प्रोफेसर नरेंद्र सिंह भंडारी ने कहा कि राज्यपाल द्वारा विश्वविद्यालय के प्रयासों पर खुशी जताई गई। भविष्य में भी हम सामाजिक उत्तरदायित्वों को समझते हुए समाज के बीच अनेक कार्यक्रमों को संचालित कराएंगे। शिक्षा के उन्नयन के लिए लगातार प्रयास किया जा रहा है, आगे भी हम बेहतर प्रयास करेंगे।

यह भी पढ़े 👉 : गर्भवती महिला की तड़प-तड़प कर हो गई मौत।

Leave a Reply

Your email address will not be published.