श्री बदरीनाथ धाम के कपाट शीतकाल हेतु 20 नवंबर की शाम होंगे बंद, उत्तराखंड के चार धामों के कपाट बंद होने की तिथियां घोषित।

NEWS 13 प्रतिनिधि गोपेश्वर:-

चमोली/ श्री बदरीनाथ धाम के कपाट इस यात्रा वर्ष शीतकाल हेतु शनिवार 20 नवंबर वृष लग्न शायंकाल 6 बजकर 45 मिनट में बंद हो जायेंगे। श्री उद्धव जी श्री कुबेर जी रावल जी सहित आदि गुरु शंकराचार्य जी की पवित्र गद्दी धाम से 21 नवंबर को पांडुकेश्वर-जोशीमठ हेतु प्रस्थान करेगी।

यह भी पढ़े 👉 : जायदा किराए के बाबजूद भी एडवांस बुकिंग में चल रहीं हैं देहरादून-हल्द्वानी-पिथोरागढ़ हेली सेवा।

श्री बदरीनाथ मंदिर परिसर में आयोजित समारोह मे़ श्री बदरीनाथ मंदिर के कपाट बंद होने की तिथि तय की गयी इस अवसर पर रावल ईश्वरी प्रसाद नंबूदरी, देवस्थानम बोर्ड के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी बी0डी0सिंह, धर्माधिकारी भुवन चंद्र उनियाल, उप मुख्य कार्याधिकारी सुनील‌ तिवारी सहित आचार्य वेदपाठी हकहकूकधारी श्रद्धालुजन मौजूद रहे। काार्यक्र के दौरान सामाजिक दूरी सहित कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किया गया।

यह भी पढ़े 👉 : देवभूमि के टिहरी व चमोली जिले के दो जवान हुए मां भारती की रक्षा करते शहीद।

उल्लेखनीय है कि श्री केदारनाथ धाम एवं यमुनोत्री धाम के कपाट भैया दूज पर 6 नवंबर को तथा श्री गंगोत्री धाम के कपाट 5 नवंबर को गोवर्धन पूजा के अवसर पर शीतकाल हेतु बंद होंगे। द्वितीय केदार मद्महेश्वर जी के कपाट 22 नवंबर, तृतीय केदार तुंगनाथ जी के कपाट 30 अक्टूबर एवं चतुर्थ केदार श्री रूद्रनाथ जी के कपाट 17 अक्टूबर को बंद हो जायेंगे।

यह भी पढ़े 👉 : उत्तराखंड में डेंगू ने भी शूरू किए पांव पसारने, यहां हुई डेंगू से मरीज की मौत।

Leave a Reply

Your email address will not be published.