चम्पावत >> सुनीता देवी को भोजन माता के पद पर मिलेगी तैनाती : एससी आयोग अध्यक्ष, टनकपुर में मुलाकात कर ली प्रकरण की जानकारी।

NEWS 13 प्रतिनिधि चम्पावत:-

चम्पावत/ एससी आयोग के अध्यक्ष मुकेश कुमार ने मंगलवार को जीआइसी सूखीढांग में एससी भोजन माता के पद से हटाई गई सुनीता देवी से टनकपुर स्थित पीडब्ल्यूडी आवास में मुलाकात कर प्रकरण की पूरी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि सुनीता देवी को भोजन माता के रूप में नियुक्त किए जाने के प्रयास किए जा रहे हैं। अनुसूचित मोर्चे जिलाध्यक्ष मदन कुमार की अध्यक्षता में मंगलवार को पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस में हुई बैठक में आयोग के अध्यक्ष ने सुनीता देवी के पति प्रेम राम से भी कारणों की जानकारी ली। सुनीता ने बताया कि प्रधानाचार्य ने 25 दिसंबर को मौखिक रूप से उन्हें नियुक्ति दी थी। जिसके बाद सवर्ण अभिभावकों के एक वर्ग ने इसका विरोध किया। कहा कि उनकी मुख्यमंत्री से इस संबंध में बातचीत हुई है।

यह भी पढ़ें 👉 : छह दिवसीय राष्ट्रीय चित्रकला शिविर में प्रोफेसर सोनू द्विवेदी शिवानी ने उत्तराखंड से किया प्रतिभाग।

उन्होंने सुनीता से शिकायत आयोग के पोर्टल में भेजने को कहा। एससी वर्ग की भोजन माता सुनीता देवी और उसके पति प्रेम राम ने उन्हें डराए धमकाने जाने की बात भी कही। जिस पर आयोग के अध्यक्ष ने ऐसे लोगों की शिकायत पुलिस में करने को कहा। इस दौरान सुनीता देवी और उसके पति ने बताया कि अब तक उत्तराखंड सरकार उन्हें न्याय नहीं दिला सकी है। सुनीता का कहना है वह दिल्ली सरकार के बुलावे पर नौकरी के लिए अब वहां नहीं जाना चाहती है। उसका कहना है उसे इंटर कॉलेज में ही भोजन माता पद पर तैनाती दी जाए। एससी आयोग अध्यक्ष कुमार ने नियुक्ति दिए जाने का आश्वासन दिया।

यह भी पढ़ें 👉 : पिथौरागढ़ के जीआईसी में 61 लाख की लागत से बन रहे पुस्तकालय का स्थानीय विधायक चन्द्रा पंत ने किया निरीक्षण।

Leave a Reply

Your email address will not be published.