श्रीनगर गढ़वाल >> मेडिकल कॉलेज का प्रोफेसर निकला मोबाइल चोर, कमरें की चेकिंग के द्वारान मिलें 30 मोबाइल।

न्यूज़ 13 प्रतिनिधि पौड़ी गढ़वाल:-

श्रीनगर गढ़वाल/ शिक्षक हमारे बच्चों को सही रास्ते पर चलना सिखाते हैं। जब भी कोई बच्चा कामयाबी हासिल करता है तो उसका श्रेय अपने गुरूजनो को देता है परन्तु श्रीनगर गढ़वाल से एक ऐसा मामला सामने आया है जिस पर आप शायद ही विस्वास करें।

यह भी पढ़ें 👉 : विकासनगर में हुई कार दुर्घटना ग्रस्त एक व्यक्ति की हुई दर्दनाक मौत।

यहां प्रोफेसर साहब एक छात्र का मोबाइल चोरी करते हुए पकड़े गए हैं। ये खुलासा सीसीटी चैक करने के बाद हुआ है। हैरानी की बात तो यह है कि छात्र का मोबाइल फोर्मेट भी कर दिया गया इतना ही नहीं प्रोफेसर के कमरे की चैकिंग की गई तो वहां से 30 मोबाइल मिले हैं और साहब उन्हें अपना बता रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉 : अलग होने की खबरों के बीच पवनदीप राजन व अरुणिता कांजीलाल भगवान शिव व पार्वती के विवाह स्थल त्रियुगीनारायण मन्दिर में आए नज़र।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक श्रीनगर मेडिकल कॉलेज मे 15 दिसंबर को परीक्षा थी। जो छात्र परीक्षा में मोबाइल लेकर पहुंचे थे उनके फोन कक्ष निरीक्षकों ने जमा करवा दिए थे। परीक्षा खत्म होने के बाद एक छात्र को मोबाइल वापस नहीं मिला।

यह भी पढ़ें 👉 : सशक्त भू-कानून को लेकर उतराखंड महिला मंच के सदस्यों ने पारम्परिक वेशभूषा में लोकनृत्य करते हुए गांधी पार्क से शहीद स्थल तक निकाली रैली।

एनोटॉमी विभागाध्यक्ष प्रो. अनिल द्विवेदी ने मोबाइल ढुढने के लिए सीसीटीवी की रिकॉर्डिंग खंगाली तो उन्हें कॉलेज के एक प्रोफेसर मोबाइल ले जाते मिले जोकि 10 साल से यहां कार्यरत हैं। इसके बाद उन्होंने प्राचार्य प्रो. सीएम रावत को इस घटना के बारे में बताया फिर सभी प्रोफेसर के कमरे में गए और फोन के बारे में पूछा तो उन्होंने मना कर दिया। सीसीटीवी कैमरे की रिकार्डिंग दिखाने के बाद भी वे अपनी गलती नहीं मान रहे थे प्रोफेसर के कमरे की चैकिंग की गई तो वहां 30 फोन मिले। सीनियर प्रोफेसर ने बताया कि ये फोन उनके है लेकिन जिस छात्र का फोन खो गया था उसने अपना फोन को पहचान लिया। प्रोफेसर पर अन्य आरोप भी हैं। अब कॉलेज प्रशासन ने सभी आरोपों की जांच के लिए कमेटी बैठा दी है। इस मामले पर प्रार्चाय का कहना है कि फोन में से पूरा डाटा डिलिट कर दिया गया है। इससे साफ है कि ये जानकर के द्वारा ही किया गया है। सीनियर प्रोफेसर पर अन्य आरोप भी लगे है और कमेटी की जांच के बाद ही फैसला लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉 : सशक्त भू-कानून को लेकर उतराखंड महिला मंच के सदस्यों ने पारम्परिक वेशभूषा में लोकनृत्य करते हुए गांधी पार्क से शहीद स्थल तक निकाली रैली।

Leave a Reply

Your email address will not be published.