रानीखेत विधानसभा के भवानी देवी पंपिंग पेयजल योजना के पुनर्गठन के लिए 1743 लाख रुपए हुए स्वीकृत, विधायक रानीखेत ने जताया मुख्यमंत्री का आभार।

NEWS 13 प्रतिनिधि अल्मोड़ा:-

अल्मोड़ा/ रानीखेत विधानसभा में लम्बे वक्त से चल रही पेयजल की समयसा को दूर करने के लिए शासन द्वारा भवानी देवी पंपिंग योजना के पुनर्गठन के लिए 1743 लाख रुपए स्वीकृत किए है। इस योजना के पुनर्गठन होने के बाद भिकियासैण इलाके की एक बड़ी आबादी को इसका लाभ मिलेगा। मुख्य रूप से ये गांव हौगे लाभान्वित बासोट, पीपल गांव, सिरकोट, सीम, मझेड़ा, चनोली, दलोडी, बम्योली आदि गांवों की हजारो लोगो की जनसंख्या की पेयजल की समस्या से निजात मिलेगा।

यह भी पढ़ें 👉 : चंपावत उपचुनाव की पर्यवेक्षक ने ली बैठक।

इस पेयजल योजना के लिए बजट स्वीकृत होने पर विधायक रानीखेत डॉ प्रमोद नैनवाल ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का आभार व्यक्त किया है अपने सन्देश में उन्होंने कहा है कि हमारे द्वारा लंबे समय से भवानी देवी व नैथना पंपिंग पेयजल योजनाओं के पुनर्गठन की मांग की जा रही थी। मैंने देहरादून जाकर तत्कालीन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत व तीरथ सिंह रावत के साथ ही मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह को ज्ञापन दिया था। मैं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का हृदय से आभारी हूं कि उन्होंने हमारी जन भावनाओं का सम्मान करते हुए भवानी देवी पंपिंग योजना के पुनर्गठन के लिए 1743 लाख रुपए स्वीकृत किए। जल्दी पुनर्गठन का कार्य भी शूरू होगा। वही उत्तराखंड पेयजल संस्थान के अधिशाषी अभियंता सुनील जोशी द्वारा जारी एक पत्र में बताया गया है की पूर्व में भवानी देवी पम्पिंग योजना हेतु निविदाएं आमंत्री की गयी थी। लेकिन अत्यधिक दरें मिलने के कारण निविदा निरस्त कर दी गयी थी। अपने पत्र में विधायक रानीखेत को सम्बोधित करते हुए अधिशाषी अभियंता ने कहा है कि आपके निर्देशनुसार निविदा पुनः जारी कर दी गयी है। निविदा प्रक्रिया पूर्ण होने के उपरांत कार्य अतिशीघ्र आरंभ कर दिया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.