रामनगर >> मनराल स्टोन क्रेशर को सीज करने के साथ ही 24 घंटे में संचालन बंद कराने के जिलाधिकारी नैनीताल को दिए निर्देश।

NEWS 13 प्रतिनिधि हल्द्वानी:-

हल्द्वानी/ पूर्व सैनिक आनंद सिंह नेगी व अन्य ग्रामीणों की याचिका पर नैनीताल हाईकोर्ट ने ग्राम सक्खनपुर में संचालित मनराल स्टोन क्रशर को तत्काल सीज करने और क्रेशर का संचालन बंद करने के आदेश दिए हैं। उक्त स्टोन क्रेशर पर गलत तरीके से एनओसी हासिल कर गांव में प्रदूषण फैलाने के साथ ही अवैध खनन करने के भी आरोप हैं।

यह भी पढ़ें 👉 : उत्तराखंड के इस दर्जा राज्यमंत्री के घर को किया गया सील, यह है वजह।

याचिकाकर्ता के अधिवक्ता दुष्यंत मैनाली ने बताया नियमों के अनुसार सिर्फ औद्योगिक जोन बनाकर ही उसमें स्टोन क्रशर लगाया जा सकता है। जबकि रामनगर में गांव की आबादी के बीचों-बीच में स्टोन क्रेशर लगाए जा रहे हैं जिससे न केवल पर्यावरण बल्कि जन स्वास्थ्य को भी हानि हो रही है और गांव की सड़कें टूट रही है। कोर्ट ने इन सब आधारों पर संतुष्ट होने के बाद उक्त स्टोन क्रशर का संचालन तत्काल रोकने के आदेश दिए हैं। जिलाधिकारी नैनीताल को हाई कोर्ट ने आदेश दिया है कि वह कोर्ट के आदेश का अनुपालन 24 घंटे में सुनिश्चित करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.