उतराखंड की पुलिस मित्र भी है और इमानदार भी।

न्यूज़ 13 प्रतिनिधि पौड़ी:-

पौड़ी/ राज्य पुलिस को मित्र पुलिस के नाम से भी नवाजा गया है। इस नाम को यथावत बनाए रखा श्रीनगर गढ़वाल में तैनात सिपाही ने। बता श्रीनगर गढ़वाल में तैनात सिपाही ने ईमानदारी का परिचय देते हुए और उत्तराखंड पुलिस विभाग को गर्वित किया है।

यह भी पढ़ें 👉 : केदारनाथ नाथ से कांग्रेसी विधायक मनोज रावत का हुआ हेली सर्विस पवन हंस के मैनेजर से विवाद विधायक पर लगे मारपीट के आरोप सभी कंपनियों ने केदारनाथ के लिए हेली सेवा की बंद।

कोतवाली श्रीनगर गढ़वाल में नियुक्त मुख्य आरक्षी हरेन्द्र सिंह और आरक्षी संजय उनियाल को आज ड्यूटी के दौरान गोला बाजर के समीप एक पर्स मिला जिसमें 16,000 रुपये और जरूरी कागजात थे। दोनों पुलिस कर्मियों ने मित्र पुलिस का नाम कायम रखा और ईमानदारी का परिचय दिया।

यह भी पढ़ें 👉 : भाजपा विधायक ने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को विकास पर बात करने की दी खुली चुनौती।

दोनों पुलिसकर्मियों ने उक्त पर्स के सम्बन्ध में जानकारी जुटाई तो हिमानी पुत्री गोविन्द सिंह निवासी ग्राम नाड़ी तहसील व थाना कीर्तिनगर जनपद टिहरी गढ़वाल ने मिले पर्स की पहचान कर उक्त पर्स को अपना बताया।

यह भी पढ़ें 👉 : लोगों की मेहनत की कमाई को एटीम क्लोनिंग के जरिये उड़ाने वाला आया अल्मोड़ा पुलिस की गिरफ्त में, चौखुटिया से 02 लोगों के खाते से लगभग 70 हजार रु0 उड़ाने पर अल्मोड़ा पुलिस हरियाणा से कर लाई गिरफ्तार।

इसके बाद पुलिस कर्मियों ने ईमानदारी का परिचय देते हुये गोला बाजार के पास उक्त पर्स को हिमानी उपरोक्त के सुपुर्द किया। वहीं इस पर हिमानी द्वारा पुलिस कर्मियों की ईमानदारी की प्रशंसा करते हुए उत्तराखण्ड पुलिस का धन्यवाद अदा किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.