कल देर रात ज्योलिकोट के चोपड़ा गांव से गायब हुए बच्चे का घर से डेढ़ किलोमीटर दूर मिला क्षत-विक्षत शव।

न्यूज़ 13 प्रतिनिधि हल्द्वानी:-

नैनीताल/ ज्योलीकोट के नजदीकी गांव चोपड़ा से शुक्रवार देर रात दो वर्ष के बच्चे को गुलदार उठा ले गया था। जिसका शव आज शनिवार सुबह घर से पास लगभग एक-डेढ़ किलोमीटर दूर क्षत-विक्षत हालत में मिला है। प्राप्त जानकारी के अनुसार बच्चे का अभी केवल सिर और एक हाथ ही अभी बरामद हुआ है। घटना से क्षेत्र में भय का माहौल देखा है। बताया जा रहा है कि घटना से कुछ देर पहले ही बच्चे के परिजनों ने आंगन में गुलदार को चहलकदमी करते देखा था।

यह भी पढ़ें 👉 : काशीपुर से बीजेपी विधायक हरभजन सिंह चीमा लैगे राजनीति से संन्यास बेटे को टिकट दिलाने के लिए ठोकेंगे ताल।

प्राप्त जानकारी के अनुसार भानू राणा तथा मीना राणा अपने दो छोटे बच्चों के साथ चोपड़ा मटियाली गांव में रहते हैं। शुक्रवार देर शाम उनके बच्चे 4 वर्षीय पीयूष और 2 वर्षीय राघव आंगन में खेल रहे थे। इसी दौरान दो वर्षीय राघव अचानक गायब हो गया। पीयूष के रोने पर परिजन व ग्रामीण यहां पहुंचे तो उन्होंने आंगन से गुलदार को भागते हुए देखा। इसके बाद ग्रामीणों ने पुलिस व वन विभाग को घटना की सूचना दी।

यह भी पढ़ें 👉 : चम्पावत >> द रॉक माउंट व्यू के बेजान पत्थरों में जान फूंक रहा काली कुमाऊं का विजय बोहरा, जंगल में एक से बढ़कर एक सुंदर रॉक पेंटिंग बनाई हैं इस युवक ने।

सूचना के बाद विभागीय अधिकारी मौके पर आए। पुलिस ने ग्रामीणों के साथ गांव आस पास के क्षेत्रों में रात तक सर्च अभियान चलाया। लेकिन देर रात तक बच्चे का कहीं पता नहीं चल सका। आज शनिवार सुबह बच्चे का शव घर से करीब एक-डेढ़ किलोमीटर दूर क्षत-विक्षत हालत में मिला है।

यह भी पढ़ें 👉 : रामनगर में अवैध खनन के खिलाफ विभाग की आधी रात में छापेमारी, अवैध खनन में लगे 4 डंफर लगे विभाग के हत्थे।

इसी क्षेत्र में दो-तीन पहले गांव को जाने वाले रास्ते पर चोपड़ा गांव निवासी तीन लोगों पर गुलदार ने हमला कर दिया था। इससे पहले भी जंगल से लगे इस क्षेत्र में गुलदार की लगातार आवक बनी रहती है। और अब जबकि गुलदार नरभक्षी बन चुका है तो उससे खतरा और भी बढ़ गया है। क्षेत्रीय लोग गुलदार को पकड़कर उसके आतंक से निजात दिलाने की मांग कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.