हल्द्वानी में कांग्रेसीयो ने क्यों फूंका मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का पुतला जानिए वज़ह।

न्यूज़ 13 प्रतिनिधि हल्द्वानी:-

हल्द्वानी/ दस नवंबर को कॉग्रेस पार्टी द्वारा रामलीला मैदान में आयोजित विजय शंखनाद संकल्प कार्यक्रम को स्थानीय प्रशासन और पुलिस द्वारा अनुमति न दिए जाने के खिलाफ कांग्रेस कार्यकर्ता उग्र हो गए। और आज कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए मुख्यमंत्री का पूतला फूंका।

यह भी पढ़ें 👉 : पौड़ी कार में पेट्रोल भरवाने को लेकर हुआ विवाद कार चालक ने पेट्रोल पंप कर्मचारी का तोड़ा पांव।

महानगर कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल छिमवाल के नेतृत्व में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने पूतला फूंका इस बीच कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष राहुल छिमवाल ने कहा कि सत्ता के दबाव में प्रशासन ने कांग्रेस के कार्यक्रम की अनुमति नहीं दी जो की पूरी तरह से राज्य के मुख्यमंत्री धामी की तानाशाही को दर्शाता है।

यह भी पढ़ें 👉 : नानकमत्ता में एंट्री ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट ने घर में चल रहे अनैतिक देह व्यापार का भंडाफोड़ कर मां बेटी सहित 8 लोगों को किया गिरफतार।

जिसे कांग्रेस पार्टी किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेगी आज पूरे राज्य में कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा राज्य सरकार का पुतला फूंका जा रहा है और विरोध किया जा रहा है। राज्य सरकार विपक्ष की आवाज को दबाने का काम कर रही है। जिसका माध्यम प्रशासन बन रहा है प्रशासन को भी यह समझना चाहिए कि कांग्रेस का कार्यक्रम प्रस्तावित होने के बाद भी अनुमति क्यों नहीं दी गई।

यह भी पढ़ें 👉 : पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत हुए सरकार पर हमलावर कहा 57 करोड़ जो सचिवालय व 500 भवनों के निर्माण गैरसैंण में करने का बजट कहां चला गया।

मुख्यमंत्री का कार्यक्रम कांग्रेस के कार्यक्रम के बाद तय हुआ है। ऐसे में सीएम पुष्कर सिंह धामी के दबाव में प्रशासन ने कांग्रेस को 10 नवंबर के कार्यक्रम की अनुमति नहीं दी। जिसका पूरे प्रदेश कांग्रेस कमेटी विरोध कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.