उत्तराखंड में बहन के प्रेम विवाह करने को लेकर नाराज़ भाईयों ने बहन की कर दी थी निर्मम हत्या, अब तीनों को मिली फांसी की सज़ा।

NEWS 13 प्रतिनिधि हरिद्वार:-

हरिद्वार/ उत्तराखंड के शाहपुर गांव की एक युवती ने लव मैरिज की तो उसके भाईयों ने नाराज होकर उसकी हत्या कर दी। चार साल पहले हुए इस हत्याकांड में अब एडीजे कोर्ट ने मृतका के दो सगे और एक ममेरे भाई को फांसी की सजा सुनाई है। लक्सर एडीजे कोर्ट के शासकीय अधिवक्ता भूपेश्वर ठकराल ने पूरे मामले के बारे में जानकारी दी और बताया कि खानपुर थाना क्षेत्र के शाहपुर गांव में रहने वाली प्रीति पुत्री नेपाल सिंह ने साल 2014 में धर्मपुर निवासी ब्रजमोहन से लव मैरिज की थी। जिसके बाद उसका अपने मायके में आना जाना भी बंद हो गया था। परन्तु साल 2018 में उसके तीन भाइयों ने उसे माता पिता से सुलह का झांसा देकर अपने गांव बुला लिया।

यह भी पढ़ें 👉 : अल्मोड़ा >> सल्ट में वाहन अनियंत्रित होकर समाया खाई में, एक ही परिवार के 5 लोग घायल।

प्रीति अपने मामा के घर अब्दीपुर गांव पहुंची तो यहां पर तैयार बैठे प्रीति के सगे भाई कुलदीप, अरुण और ममेरे भाई राहुल ने गंडासे से काटकर उसकी निर्मम हत्या कर दी थी। युवती के पति ने चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। जिसमें चौथे आरोपी का नाम बाद में हटवा दिया। इसके बाद पुलिस ने कुलदीप, राहुल और अरुण को जेल भेज दिया था। तभी से मामले की सुनवाई सुनवाई लक्सर के एडीजे कोर्ट में चल रही थी। प्राप्त जानकारी के अनुसार अभियोजन पक्ष ने पुलिस, पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर समेत कुल 15 गवाह पेश किए थे। अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश शंकर राज ने हत्या के इस मामले को रेयरेस्ट ऑफ द रेयर मानते हुए तीनों आरोपियों को दोषी पाया और इन्हें फांसी की सजा सुनाई है। अधिवक्ता ठकराल की मानें तो फिलहाल तीनों को जेल भेजा गया है। अभी फांसी की तिथि तय नहीं हुई है। हालांकि इस दौरान वह निर्णय की अपील भी कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.