चम्पावत जिले में आपदा के 14 दिनों बाद भी रोड नहीं खुलने का खामियाजा भुगत रहें हैं ग्रामीण, बुजुर्ग महिला को डोली के सहारे पहुंचाया जिला अस्पताल।

NEWS 13 प्रतिनिधि चम्पावत:-

चम्पावत/ पिछले महीने उत्तराखंड में आई आपदा ने बहुत से घर उजाड़ दिए थे। और बहुत कुछ पानी का सैलाब अपने साथ बहा कर ले गया। अभी भी राज्य राज्य आपदा के लिए जख्मों से उभर नहीं पाया है। ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों के लिए जीवन और ज्यादा कठिन हो गया है। भीषण बारिश के वजह से ध्वस्त हुई सड़कें अभी भी बंद पड़ी है। ऐसी सड़के अब मरीजों पर भारी पड़ रही है। इसी वजह से मंगलवार को एक बीमार महिला को बंद सड़क को पार करने के लिए चार किमी तक ग्रामीणों द्वारा डोली से ले जाया गया। चौमेल सुतेड़ा सड़क 19 अक्टूबर की बारिश के बाद से ही बंद है। दो हफ्ते गुजरने के बाद भी सड़क को ठीक करने के कोई आसार नहीं दिख रहे है। सड़क के ना खुलने का खामियाजा ग्रामिणों को तो भुगतना ही पड रहा है। लेकिन बीमार लोगों को कुछ ज्यादा भुगतान करना पड़ रहा है। 90 वर्ष की दुर्गा देवी की एकाएक तबीयत बीगड़ जाने से उन्हें शहर के असप्ताल में ईलाज के जल्दी से जल्दी भर्ती करवाना था। लेकिन सड़क के हाल देखकर ग्रामीणों को समझ नहीं आया की कैसे इतनी बूढ़ी महिला को अस्पताल तक पहुंचाया जाए। ऐसे में गांव के युवकों ने आगे आकर डोली से चार किमी इस टूंटी सड़क को पार कर जहां तक गाड़ी आ सकती थी वहां तक पहुंचाया।

यह भी पढ़े 👉 : दिवाली में इनके घर में छाया मातम, दो बाईक सवारों की हुई दर्दनाक मौत।

लगभग सवा दो घंटे में इस रास्ते को पार करके महिला को चौमेला पहुंचाया गया। चौमेला से वाहन से महिला को अस्पताल पहुंचाया गया। प्रमुख सड़क से दुर्गा को लोहाघाट अस्पताल लाया गया था। इलाज के बाद से बुजुर्ग महिला की तबियत में सुधार है। डोली से महिला को सड़क तक पहुंचाने वाले युवकों के नाम थे भास्कर शर्मा, मानस बिष्ट, शेखर शर्मा, खिलानंनद शर्मा, कमलाकांत पाठक, अमित बिष्ट, निर्मल शर्मा दिनेश सिंह, हरीश राम इन सभी ने इंसानियत की पहचांन मिसाल पेश की है। 14 दिन से सड़क बंद होने से परेशान ग्रामिणों के लिए दिवाली का पर्व भी फीका रहने के आसार है। अब नाराज ग्रामिणों ने तीन दिन के भीतर सड़क ना खुलने पर आंदोलन करने की चेतावनी दी है जाख, सील, जमरेड़ी, सुतेरा आदि गांवो के लोग सड़क बंद होने से परेशान है।

यह भी पढ़े 👉 : अब चम्पावत जिले से लगा भारतीय जनता पार्टी को जोर का झटका ये बड़ी महिला नेत्री ने थामा कांग्रेस का हाथ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.