धरना प्रदर्शन आंदोलन को 12 साल पूरे होने पर किया हवन व यज्ञ।

NEWS 13 प्रतिनिधि अल्मोड़ा:-

अल्मोड़ा/ आज यहां जिलाधिकारी कार्यालय के प्रांगण में नौकरी, पैंशन एवं अन्य सुविधाएं दिये जाने की मांग को लेकर गुरिल्लों के धरने को 12 वर्ष पूर्ण होने पर जिलाधिकारी कार्यालय में बुद्धि-शुद्धि यज्ञ का आयोजन किया गया है इस अवसर पर संगठन के केंद्रीय अध्यक्ष ब्रह्मानन्द डालाकोटी ने कहा कि भारत-चीन सीमा की सुरक्षा की कभी महत्वपूर्ण कड़ी रहे गुरिल्ला विगत 15 वर्षो से आंदोलनरत हैं और अल्मोड़ा जिलाधिकारी कार्यालय के प्रांगण में 12 वर्षो से निरन्तर धरने में बैठें हैं इस अवसर पर यज्ञ का आयोजन कर गुरिल्लों ने केन्द्र सरकार व राज्य सरकार की सद्बुद्धि हेतु कामना की और यज्ञ के माध्यम से प्रार्थना की कि केन्द्र सरकार गुरिल्लों का सत्यापन कराये जाने के बाद 9 मई 2011 को एस एस बी स्वयं सेवकों के लिए भेजी गयी विभागीय सिफारिशों पर शीघ्र कार्यवाही करे इसी प्रकार यज्ञ में राज्य सरकार के लिए गुरिल्लों के संबंध में जारी शासनादेशों तथा समय-समय पर लिए गये निर्णयों पर शीघ्र कार्यवाही की सद्बुद्धि राज्य सरकार को दिए जाने की कामना की गयी।

यह भी पढ़े 👉 : बिग ब्रेकिंग अल्मोड़ा >> सिकुड़ा बैंड के पास सड़क बंद।

अध्यक्ष ने बताया कि पूरे देश में लगभग एक लाख तथ उत्तराखंड में गुरिल्लों की संख्या लगभग 20 हजार है जिन्हौनै अपने जीवन की युवावस्था का महत्वपूर्ण समय देश की सेवा में लगाया है आज सरकार यदि सीमाओं पर उनकी आवश्यकता नहीं समझती है तो उन्हैं अन्यत्र समायोजित किया जाये तथा उम्र दराज गुरिल्लों को जीवनयापन हेतु पैंशन दी जाये। कार्यक्रम मे केन्द्रीय अध्यक्ष ब्रहमानंद डालाकोटी, जिलाध्यक्ष शिवराज बनौला, पंडित बसन्त बल्लभ जोशी, अर्जुन सिंह, नैनवाल रणजीत सिंह, प्रेमबल्लभ काण्डपाल, खड़क सिंह पिलखवाल, बसन्त लाल, बिशन सिंह नेगी, बसन्त सिंह, गंगा सिंह बनौला, मनोहर सिंह, गोपाल राम, महेन्द्र सिंह, विजय प्रकाश जोशी, गोपाल राणा, दीवान जीना, आनन्दी महरा, ममता मेहता, रेखा बग्ड्वाल, धनी आर्या, शान्ति देवी दीपा परगाई अनीता आर्या सहित अनेक गुर्रिल्ला उपस्थित थे।

यह भी पढ़े 👉 : पेयजल आपूर्ति दुरुस्त नहीं करने पर अधिशासी अभियंता ने अवर अभियंता को किया निलंबित।

Leave a Reply

Your email address will not be published.