उत्तराखंड के इस मसहूर स्कूल में मिले चार बच्चे कोरोना संक्रमित, स्कूल प्रशासन के साथ ही स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप।

NEWS 13 प्रतिनिधि देहरादून:-

देहरादून/ उतराखंड में कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के चलते भी स्कूलों ने पढ़ाई शुरू कर दी है। और छात्र भी कक्षाओं में लौटने लगे हैं। परन्तु कोरोना का खतरा अभी भी टला नहीं है। राज्य के बहुत स्कूलों से छात्रों के कोरोना पॉजिटिव होने के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। दुनियाभर में प्रसिद्ध द दून स्कूल में भी छात्र लगातार कोरोना पॉजिटिव मिल रहे हैं। बीते दिन यहां चार और  छात्रों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। लगभग दो हफ्ते में यहा के आठ छात्रों को कोरोना संक्रमित पाया गया है।

यह भी पढ़े 👉 : शेयर मार्केट इन्वेस्टमेंट के नाम पर लाखों रुपए की ठगी करने वाले गिरोह की एक और अभियुक्ता को पिथौरागढ़ पुलिस ने ग्रेटर नोएडा से किया गिरफ्तार।

जिससे चलते स्वास्थ्य विभाग में भी हड़कंप मचा है। सभी संक्रमित छात्रों को स्कूल में ही आइसोलेट किया गया है। बच्चों की देखभाल स्कूल प्रबंधन की ओर से की जा रही है। स्कूल प्रबंधन के साथ ही स्वास्थ्य विभाग भी स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ.राजीव दीक्षित ने द दून स्कूल में कुछ छात्रों के कोरोना पॉजिटिव मिलने की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि लगभग दो हफ्ते पहले द दून स्कूल के छात्र चंडीगढ़ से लौटे थे।

यह भी पढ़े 👉 : दीपावली पर्व के दृष्टिगत बदलेगी अल्मोड़ा नगर की यातायात व्यवस्था, रविवार के दिन भी जारी रहेगी वन वे व्यवस्था।

जिन्हें नियमानुसार स्कूल में ही अलग कमरों में आइसोलेशन में रखा गया था। दो छात्रों की आरटीपीसीआर जांच में कोरोना की पुष्टि होने पर बाकी छात्रों और उनके संपर्क में आए स्टाफ की भी कोरोना की जांच कराई गई है। जिसमें दो और छात्रों में भी कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो गई। इसी क्रम में अब बुधवार को तीन और बृहस्पतिवार को एक छात्र में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। फिलहाल संक्रमित मिले सभी छात्र सामान्य है। सभी छात्रों को स्कूल के ही आइसोलेशन कक्ष में रखा गया है। स्कूल का मेडिकल स्टाफ छात्रों की देखभाल कर रहा है। स्वास्थ्य विभाग भी संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए जरूरी कदम उठा रहा है।

यह भी पढ़े 👉 : 4 दर्जन से अधिक लोगों ने कांग्रेस छोड़ भाजपा की सदस्यता की ग्रहण।

Leave a Reply

Your email address will not be published.