चौखुटिया पुल की मरम्मत के चलते कुमाऊं मंडल से बड़ी गढ़वाल मंडल की दूरी।

NEWS 13 प्रतिनिधि अल्मोड़ा:-

अल्मोड़ा/ कुमाऊं और गढ़वाल के बीच की दूरी बढ़ गई है। अब एक मंडल से दूसरे मंडल पहुंचने के लिए लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। वज़ह यह कि चौखुटिया नगर में रामगंगा नदी पर बने मोटर पुल का डैक स्लैब क्षतिग्रस्त हो गया है। जिसकी मरम्मत कार्य के चलते पुल पर नौ अक्टूबर सुबह 10 बजे तक वाहनों के आवागमन बंद रहेगा। गौरतलब है कि वर्ष 1965 में खैरना-कर्णप्रयाग राष्ट्रीय राजमार्ग पर चौखुटिया नगर के मध्य बने इस मोटर पुल की वाहन भार क्षमता 16.20 टन थी। लेकिन जैसे जैसे समय आगे बढ़ा। वैसे वैसे ही वाहनों की बढ़ती संख्या के साथ पुल पर पड़ने वाला दबाव भी काफी बढ़ता गया। जिस कारण पुल की वाहन भार क्षमता काफी कम हो गई।

यह भी पढ़े 👉 : विकास खंड चौखुटिया विकास कार्यालय में आयोजित हुआ बहुउद्देशीय शिविर आम लोगों ने करवाई 190 से अधिक शिकायतें दर्ज, द्वाराहाट विधायक महेश नेगी ने जिला स्तरीय अधिकारियों को दिए क्षेत्र में लगातार भ्रमण करने व जनता की समस्याओं त्वरित निपटाने के निर्देश।

और नतीजा ये हुआ अब पुल की हालत बेहद जर्जर अवस्था में पहुंच गई है। अब इस पुल का डैक स्लैब क्षतिग्रस्त हो गया है। जिसकी वजह से पूल पर आवागमन को पूर्ण रूप से रोक दिया गया है। राष्ट्रीय राजमार्ग खंड लोनिवि के सूत्रों के अनुसार पुल कल सुबह दस बजे तक खोला जाएगा। फिलहाल इसकी मरम्मत का कार्य किया जा रहा है। क्योंकि यह पुल कुमाऊं व गढ़वाल को जोड़ता है। इसलिए लोगों को खासी परेशानी होगी। बता दें कि करीब 56 वर्षों के अंतराल में यह दूसरा मौका है। जब इस पुल से यातायात के लिए बंद किया गया है। पांच वर्ष पहले भी इसकी एक बार हल्की मरम्मत की जा चुकी है। इसमें तब जंग लगे कई लोहे के गार्डर बदले गए थे। लेकिन इस बीच पुल की हालत फिर से जर्जर हो गई।

यह भी पढ़े 👉 : पेयजल योजना को लेकर ग्राम प्रधानों का धरना, शीघ्र पेयजल व्यवस्था नहीं होने पर दी बड़े आंदोलन की चेतावनी।

इस पुल पर वाहनों की व्यस्तता हमेशा ही बनी रहती है। बहरहाल अब सभी वाहनों का मार्ग बदल दिया गया है। सभी वाहनों को लंबे रास्ते यानी चौखुटिया के बाखली से खीड़ा-खंसर व मैहलचौरी होते हुए आना-जाना करना होगा। लाजमी है कि इस पुल के क्षतिग्रस्त होने से लंबी रूट की नियमित सवारी बसें भी काफी प्रभावित होंगी। बता दें कि पुल पर पुलिस तैनात कर दी गई है।

यह भी पढ़े 👉 : 8 अक्टूबर से देहरादून-हल्द्वानी-पंतनगर-पिथौरागढ़ हेली सेवा शुरू।

Leave a Reply

Your email address will not be published.