चमोली में भालू की दहशत, तपोवन के ढाक गांव में गोशाले की छत तोड़कर आठ गाय व एक बकरी को भालू ने उतारा मौत के घाट।

NEWS 13 प्रतिनिधि चमोली:-

चमोली/ जिले के तपोवन क्षेत्र के ढाक गांव में भालू ने एक गौशाले की छत को तोड़कर गोशाला में बंधी आठ गाय और एक बकरी को मार डाला। भालू के द्वारा एक साथ इतने पालतू पशुओं को मारने के चलते पूरे जोशीमठ क्षेत्र में लोगों में दहशत का माहौल है। वर्तमान समय में चमोली जिले के गांव-गांव में भालू की दहशत है। आए दिन भालू गौशाओं में घुसकर पालतू पशुओं को अपना शिकार बना रहा है। लेकिन एक साथ इतने पशुओं को मारने का यह अपने आप में पहला मामला है। प्राप्त जानकारी के अनुसार शुक्रवार रात करीब दो बजे ढाक गांव के विर गौशाला की छत को तोडक़र भालू अंदर घुसा और वहां बंधे सभी पालतू जानवरों को मार डाला।

यह भी पढ़ें 👉 : देहरादून में आज फिर पकड़ी कोरोना ने रफ्तार इतने आये नये संक्रमित केस।

इस घटना के बाद क्षेत्र के लोगों में दहशत फैल गई है। ग्रामीणों ने वन विभाग से भालू से सुरक्षा करने की गुहार लगाई है। नंदादेवी राष्ट्रीय पार्क की वन क्षेत्राधिकारी चेतना कांडपाल का कहना है कि भालू द्वारा एक साथ इतने जानवरों को मार डालना समझ से परे हैं। प्रभावित परिवार को वन विभाग की ओर से उचित मुआवजा दिया जाएगा। भालू की दहशत एसी है ग्रामीण रात भर सो भी नहीं पा रहे हैं। ग्रामीणों ने भालू को पकड़ने के लिए पिंजरा लगाने की वन विभाग से गुहार लगाई है।

यह भी पढ़ें 👉 : बद्री-केदार की व्यवस्थाओं की जिम्मेदारी एक बार फिर बद्रीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के हाथों में।

Leave a Reply

Your email address will not be published.