चौखुटिया >> 43 वर्षों बाद रेवाड़ी में 12 नवंबर से होगी पांडव लीला, आयोजक मंडल तैयारी में जुटा।

NEWS 13 प्रतिनिधि गणेश जोशी, चौखुटिया:-

चौखुटिया/ गढ़वाल क्षेत्र के विभिन्न हिस्सों में चलने वाली पांडव लीला का आयोजन इस वर्ष विकासखंड के रेवाड़ी ग्राम पंचायत में 12 नवंबर से 18 नवंबर तक होगा जिसकी तैयारियां इन दिनों बड़े जोर शोर से चली हैं। आयोजक मंडल के गजेंद्र सिंह नेगी ने बताया कि 43 वर्ष बाद रेवाड़ी गांव में एक बार फिर से उत्तराखंड की सांस्कृतिक धरोहर पांडवलीला का आयोजन किया जा रहा है पांडव लीला महाभारत में पांच पांडवों के जीवन से सम्बंधित है। जिसमें पांडव नृत्य के साथ उत्तराखंड में विभिन्न स्थानों पर अपने रीति रिवाज परंपरा के अनुसार बिताए गए उनके जीवन का सजीव चित्रण किया जाता है।

यह भी पढ़ें 👉 : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राज्य स्थापना दिवस पर प्रदेशवासियों को दी बधाई, राज्य आंदोलनकारियों शहीदों को किया नमन।

पांडव नृत्य के माध्यम से पांच पांडवों व द्रोपदी की पूजा अर्चना करने की परंपरा वर्षों से चली आ रही है। बताया स्वर्ग जाते समय पांडव जहां-जहां से गुजरे, उन स्थानों पर विशेष रूप से पांडव लीला आयोजित होती है। पिछले एक सप्ताह से रेवाड़ी में ग्रामीणों को पांडव लीला की तालीम दी जा रही है इस कार्यक्रम में चमोली जनपद के टैटूडा से मुख्य वादक पहुंचते हैं जो विधि विधान के साथ ढोल दमाऊ पर पांडव लीला का मंचन कलाकारों के माध्यम से करवाते हैं।

यह भी पढ़ें 👉 : भैसियाछाना >> डेढ़ साल से निर्माण कार्य पूरा नहीं लोगों में रोष।

Leave a Reply

Your email address will not be published.