राज्य स्थापना दिवस की 21वीं वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों को सम्पन्न कराने को लेकर मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में बैठक हुई सम्पन्न।

NEWS 13 प्रतिनिधि अल्मोड़ा:-

अल्मोड़ा/ राज्य स्थापना दिवस की 21वीं वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों को सम्पन्न कराने को लेकर मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में विकास भवन में बैठक सम्पन्न हुई। उन्होंने कहा कि विगत वर्षों की भांति इस बार भी राज्य स्थापना दिवस पूरे हर्षोल्लास से मनाया जायेगा जिसमें कोविड-19 के प्रोटोकाॅल का पूरा ध्यान रखा जाएगा। उन्होने बताया कि राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर सभी सरकारी एवं अर्धसरकारी संस्थानों में आगामी 07 नवम्बर से 10 नवम्बर तक जनपद के प्रमुख राजकीय भवनों को एलईडीे बल्बों से प्रकाशमान किया जाएगा। राज्य स्थापना दिवस के दिन प्रातः 9ः00 बजे शहीद स्मारक स्थल (निकट शिखर तिराहा) पर माल्यार्पण किया जायेगा शहीद स्थल की सफाई व्यवस्था का दायित्व नगरपालिका परिषद द्वारा किया जायेगा। राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर सभी विद्यालयों सभी विकासखण्डों के कार्यालयों में विशेष सफाई अभियान साथ ही इस अवसर पर सभी कार्यक्रमों में सोशल डिस्टेसिंग का अनुपालन आवश्यक रूप से किया जायेगा। इस दिन क्राॅस कन्ट्री रेस व कबड्डी प्रतियोगिता भी आयोजित की जाएगी जिसका पूरा उत्तरदायित्व जिला क्रीडा अधिकारी का होगा। सभी तहसीलों में भी राज्य स्थापना दिवस के कार्यक्रमों को आयोजित करने के निर्देश मुख्य विकास अधिकारी ने दिये।

यह भी पढ़े 👉 : 33 हजार से अधिक आंगनबाड़ी वर्करों को सरकार ने दिया दिवाली से पहले तोफा।

राज्य स्थापना के दिन नवीन कलैक्ट्रेट में 11 बजे से सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अलावा राज्य स्थापना में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले आंदोलनकारियों के योगदान को याद किया जाएगा। इस दौरान कोविड काल, कोविड टीकाकरण व विगत दिनों आयी आपदा में उत्कृष्ट कार्य करने वाले स्वास्थ्य कर्मियों व अन्य कर्मचारियों को सम्मानित किया जाएगा। राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर विभिन्न विभागों के स्टाॅल लगाने के निर्देश भी मुख्य विकास अधिकारी द्वारा दिये गये इसके लिए जिला विकास अधिकारी को पूरी जिम्मेदारी दी गयी कि वे विभागों से समन्वय कर स्टाॅल लगवाना सुनिश्चित करें। मुख्य विकास अधिकारी ने अन्य समस्त व्यवस्थाएं व तैयारिया समय से पूर्ण करने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये। बैठक में अपर जिलाधिकारी चन्द्र सिंह मर्ताेलिया के अलावा सम्बन्धित विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

यह भी पढ़े 👉 : पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत की केदारनाथ धाम में नो एंट्री तीर्थ पुरोहित ने किया जबरदस्त विरोध।

Leave a Reply

Your email address will not be published.