दुखद, देश के लिए अपना सर्वोच्च बलिदान देकर अमर हो गए टिहरी जिले के 26 वर्षीय आदर्श नेगी।

न्यूज़ 13 प्रतिनिधि टिहरी

टिहरी/ टिहरी जनपद के मूल निवासी सेना के जवान जम्मू कश्मीर के कठुआ में हुए आतंकी हमले में शहीद हो गए है। आतंकी हमले में टिहरी जिले के आदर्श नेगी ने 26 साल की उम्र में अपना सर्वोच्च बलिदान दिया है।

यह भी पढ़ें 👉 अतिवृष्टि से प्रभावित बिजलीघर और नैनी झील वाटर लेवल का जिलाधिकारी ने लिया जायजा।

जब भी देश पर संकट आता है सेना के जवान अपनी जान की परवाह किए बिना दुश्मनों के सामने पहाड़ की तरह डटकर खड़े हो जाते हैं। अब उत्तराखंड के आदर्श नेगी भी आतंकियों से लोहा लेते हुए बलिदानी हो गए। उनकी शहादत की खबर सुनने के बाद पूरे गांव में सन्नाटा छा गया।जम्मू-कश्मीर के कठुआ में हुए आतंकी हमले में उत्तराखंड निवासी राइफलमैन आदर्श नेगी शहीद हो गए। इस खबर के बाद उनके घर में कोहराम मचा है। उनके परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

यह भी पढ़ें 👉 उत्तराखंड की अस्थाई राजधानी देहरादून में VVIP कालोनी में सांसद निधि से मात्र 3 महिने पहले बनी दीवार चढ़ी भ्रष्टाचार की भेंट।

जम्मू कश्मीर में कठुआ जिले के माचेडी क्षेत्र में सोमवार को सेना के एक ट्रक पर घात लगाकर किये गए आतंकवादियों के हमले में जूनियर कमीशन अधिकारी समेत पांच जवान शहीद हो गए और पांच अन्य घायल हुए हैं अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आतंकवादियों ने सेना के वाहन को एक ग्रेनेड से निशाना बनाया और उस पर गोलीबारी की।

यह भी पढ़ें 👉 पिथौरागढ़, यहां गांव के ग्राम प्रधान ने नाबालिग के साथ की दुष्कर्म करने की कोशिश पुलिस ने किया गिरफतार।

अधिकारियों ने बताया कि यह घटना अपराह्न लगभग साढ़े तीन बजे हुई जब कठुआ शहर से 150 किलोमीटर दूर लोहई मल्हार में बदनोता गांव के पास माचेडी-किंडली-मल्हार मार्ग पर सेना का वाहन नियमित गश्त पर था। कठुआ जिले में एक महीने के अंदर यह दूसरा बड़ा हमला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *