उत्तराखंड में सब इंस्पेक्टर और इंस्पेक्टर कर रहे खाकी को दागदार, पंतनगर के बाद केदारनाथ में महिला से छेड़छाड़ के आरोप में 2 दरोगा हुए सस्पेंड।

न्यूज़ 13 प्रतिनिधि रुद्रप्रयाग

रुद्रप्रयाग/ जिले के सोनप्रयाग से बड़ी खबर आ रही है आपकी जानकारी के लिए बताते चलें बीते साल मई 2023 में मध्य प्रदेश की एक महिला यात्री केदारनाथ दर्शनों को आई थी। बताया जा रहा है कि महिला के रहने की व्यवस्था के लिए महिला के किसी परिचित ने चौकी इंचार्ज केदारनाथ को मदद करने के लिए फोन किया।

यह भी पढ़ें 👉 ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेलवे लाईन की टनल में फंसे 8 मजदूर शासन प्रशासन की हलक में अटकी सांसें।

चौकी इंचार्ज ने केदारनाथ में ही तैनात दरोगा को महिला के रहने की उचित व्यवस्था की जिम्मेदारी दी। लेकिन दरोगा ने महिला को पुलिस कैंप में ऐसी जगह रुकवाया जहां उक्त महिला से छेड़खानी कर सके। दरोगा द्वारा महिला के साथ छेड़खानी की गई। सूत्रों के अनुसार महिला ने मामले की रुद्रप्रयाग पुलिस को शिकायत नहीं दी जबकि अपने घर लौटकर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हेल्पलाइन और डीजीपी को शिकायत पहुंचाई।

यह भी पढ़ें 👉 पंतनगर, खॉकी को दागदार करने वाले निलंबित एसएचओ राजेन्द्र सिंह डांगी के खिलाफ हुआ मुकदमा दर्ज।
इधर पुलिस के मुताबिक महिला द्वारा जो नाम बताए गए वे कुछ अलग थे। जिससे जांच में लम्बा वक्त लग गया। बाद में पुलिस ने मामले की गंभीरता से जांच की। पुलिस अधीक्षक के निर्देशों पर रुद्रप्रयाग पुलिस द्वारा 28 जून 2024 को महिला से छेड़खानी के मामले में कोतवाली सोनप्रयाग में मुकदमा दर्ज कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें 👉 छम्मी ने घुंघट की आड़ में कर डाला एसा काम, हिला कर रख दिया पुरे पुलिस महकमे को।

जबकि चौकी इंचार्ज मंजुल रावत और तत्कालीन दरोगा कुलदीप सिंह को सस्पेंड कर दिया गया है। पुलिस अधीक्षक विशाखा अशोक भदाणे ने बताया कि घटना की जितनी निंदा की जाए कम है।अपराधी बाहर का हो या घर का पुलिस इस तरह के मामलों में सख्त कार्यवाही करेगी। प्रथम दृष्टया महिला की शिकायत पर सोनप्रयाग कोतवाली में मुकदमा दर्ज कर दिया गया है जबकि आरोपी चौकी इंचार्ज और दरोगा को सस्पेंड कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *