उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में एचआईवी पॉजिटिव युवक ने बिमारी छुपाकर कर ली शादी, अब पत्नी भी हुई एचआईवी पॉजिटिव मामला पहुंचा थाने में।

न्यूज़ 13 प्रतिनिधि हल्द्वनी

हल्द्वानी/ बनभूलपुरा क्षेत्र में रहने वाली महिला को शादी के बाद पता चला कि शादी के वक्त उसका पति एचआईवी पॉजिटिव था। जिसके चलते महिला भी एचआईवी पॉजिटिव हो गई। महिला ने जब इसको लेकर विरोध जताया तो ससुराल वालों ने उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। यहां तक की महिला के एक बच्चे का गर्भपात भी ससुराल वालों ने करवा दिया।

यह भी पढ़ें 👉 चमोली, बदरीनाथ में शराबी ट्रक ड्राइवर ने मचाया तांडव, 3 तीर्थ यात्रियों को टक्कर मारने के बाद फायर सर्विस के वाहन को मारी टक्कर, आखिर में जा घुसा सुलभ शौचालय में।

बनभूलपुरा क्षेत्र की एक महिला का विवाह 10 जून 2020 को उसी क्षेत्र के रहने वाले एक व्यक्ति के साथ हुआ। शादी के बाद 31 जुलाई 2021 को उसने एक बेटे को जन्म दिया। महिला का आरोप है कि उसके ससुराल वालों ने कहने के बाद भी प्रसव के लिए उसे अस्पताल में भर्ती नहीं कराया और घर में ही प्रसव कराया। जिसके चलते उसके बच्चे को संक्रमण हो गया और तीन महीने बाद उसके बेटे की मौत हो गई।
इसके बाद महिला का स्वास्थ्य भी खराब रहने लगा। उसने अस्पताल मे जांच कराई तो पता चला कि वह एचआईवी पॉजिटिव है।

यह भी पढ़ें 👉 श्रीनगर >> यहां 34 वर्षीय विवाहिता की मौत, परिजनों ने पति पर लगाया हत्या का आरोप।

जब उसने अपने पति से पूछा तो मालूम हुआ कि वह शादी के समय से ही एचआईवी पॉजिटिव है और यह बात छुपाकर शादी की गई है। मामला खुलने पर उसके ससुराल वालों ने उस पर दबाव बनाने के लिए दहेज मांगना शुरू कर दिया और पांच लाख रुपये नगद ओर एक गाड़ी की मांग करने लगे।
साल 2022 में महिला फिर से गर्भवती हुई तो उसकी ननद ने उसे बुखार की दवा बताकर गर्भपात करने वाली दवा खिला दी। जिससे उसका गर्भपात हो गया। बताया कि तीन जुलाई 2024 को उसने घर के नीचे बंद पड़ी दुकान में से फ्रिज निकालने की बात कही।

यह भी पढ़ें 👉 यहां नगर आयुक्त व सफाई निरीक्षक पर होगी कार्यवाही, पढ़िए पूरा ख़बर।
इस पर उसके जेठ, सास व ननद और उसके पति ने उससे मारपीट की और अधमरा कर दिया। इसी बीच घर के सामने से जा रहे उसके भाई ने देखकर पीड़िता की मां को सूचना दी। देर रात डायल 112 पहुंची और पीड़िता को अस्पताल भिजवाया बनभूलपुरा पुलिस ने बताया कि बीएनएस और दहेज एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *