द्वाराहाट में पानी की बूंद-बूंद को तरसती महिलाओं का फूटा गुस्सा 2 घंटे तक राष्ट्रीय राजमार्ग को किया जाम, प्रशासन के अधिकारियों के महिलाओं को समझने में छूटे पसीने।

न्यूज़ 13 प्रतिनिधि अल्मोड़ा

द्वाराहाट/ अल्मोड़ा जिले के विकासखंड द्वाराहाट में चार दिन से पानी नही आ रहा है जिसके चलते लोग पानी की बूंद-बूंद के लिए हलकान है। द्वाराहाट मार्किट के साथ ही आसपास के एक दर्जन गांवों में पानी नही आने से महिलाओं का आक्रोश फूट पड़ा और महिलाएं रोड पर उतर गई। कल मंगलवार को महिलाएं जलापूर्ति सुचारू करने की मांग पर खाली बर्तनों के साथ जल संस्थान कार्यालय पहुंची परन्तु वहां कोई अधिकारी नहीं मिलने पर उनका गुस्सा और बढ़ गया।

यह भी पढ़ें 👉 यहां तमंचे के दम पर वन तस्कर ने खुलवाया गेट, वन दरोगा के साथ मारपीट करके लकड़ी लेकर हो गया फरार।

जिसके चलते महिलाओं ने आक्रोशित होकर खाली बर्तनों के साथ द्वाराहाट मेन बाजार को जाम कर दिया जिसको देखते हुए प्रशासन के अधिकारियों का पसीना छूट गया। इसके बाद लिखित आश्वासन पर महिलाएं सड़क से उठीं। दो घंटे सड़क जाम होने से सैकड़ों यात्री फंसे रहे।

इन गावों में भी नही आ रहा है पानी

द्वाराहाट नगर सहित गवाड़, कोटीला, ध्याड़ी, बमनपुरी, सलालखोला, भुमकिया, जामड़ के साथ ही आसपास के एक दर्जन से अधिक गांवों की प्यास बुझाने वाली रामगंगा पंपिंग योजना का ट्रांसफार्मर फुंकने से बीते चार दिन से पेयजल आपूर्ति ठप है।

यह भी पढ़ें 👉 यहां पार्षद प्रेमी का प्रेमिका ने काट डाला गुप्तांग, कोर्ट मेरिज की तैयारी के लिए हाथों में सजाई थी मेंहदी, प्रेमी के इंकार करने पर उठाया खौफनाक कदम।

पेयजल संकट से परेशान महिलाएं मंगलवार को खाली बर्तनों के साथ जल संस्थान कार्यालय पहुंची। यहां कोई अधिकारी न मिलने पर महिलाओं ने मुख्य चौराहे पर पहुंच कर जाम कर दिया और नारेबाजी करते हुए वहीं धरने में बैठ गईं। राष्ट्रीय राजमार्ग जाम होने की सूचना मिलने पर अधिकारियों के हाथ पांव फूल
गए और वे मौके के लिए दौड़ पड़े।
राष्ट्रीय राजमार्ग जाम होने से सैकड़ों वाहन, पर्यटक और यात्री फंसे रहे। सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लगी रही और यात्रियों को वाहनों में बैठकर जाम खुलने का इंतजार करना पड़ा। जब महिलाएं राष्ट्रीय राजमार्ग से उठीं तो वाहनों की आवाजाही शुरू कराने में पुलिस को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।

कब होगी लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ होगी कार्रवाई

भाजपा के मंडल अध्यक्ष धीरेंद्र मठपाल के नेतृत्व में क्षेत्र के लोगों ने एसडीएम के माध्यम से डीएम को ज्ञापन देकर लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

यह भी पढ़ें 👉 उत्तराखंड में यहां काल बनकर सड़क पर दौड़ रही स्कूल बस ने 6 महिलाओं को रौंदा, एक महिला की हुई मौत अन्य 5 गंभीर रूप से घायल।

कहा कि क्षेत्र में अवैध कनेक्शन दिए गए हैं। कई लोगों ने मुख्य लाइन में पंप लगाए हैं। जल संस्थान के ईई सुरेश ठाकुर ने कहा कि मामले की जांच की जाएगी। लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।एसडीएम सुनील कुमार ने कहा जलापूर्ति ठप रहने से नाराज महिलाओं ने राष्ट्रीय राजमार्ग को जाम किया था। मौके पर जाकर महिलाओं को समझाया गया। जल संस्थान को जल्द व्यवस्था में सुधार के निर्देश दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें 👉 बागेश्वर, मानसून ने खोली धामी सरकार की तैयारियों की पोल, कपकोट में बेजुबान जानवर हुए मलवे में जमींदोज।

द्वाराहाट विधानसभा विधायक मदन सिंह बिष्ट नेकहा कि जल जीवन मिशन योजना में भारी अनियमितताएं बरती गई हैं इस मामले को सदन में उठाया गया है। विभागीय अधिकारियों को पूर्व में व्यवस्था में सुधार के निर्देश दिए गए थे। क्षेत्र में पानी की समस्या का समाधान पिंडर नदी से ही संभव है। पूरे मामले को लेकर वे मुख्यमंत्री से मिलेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *