पिथौरागढ़ जिले में लगातार हों रही मूसलाधार बारिश के कारण कई सड़कें बंद, बिजली आपूर्ति भी हुई ठप।

न्यूज़ 13 प्रतिनिधि पिथौरागढ़

पिथौरागढ़/ उत्तराखंड में बारिश ने अपना कहर बरपाना शुरू कर दिया है सीमांत जनपद पिथौरागढ़ के ज्यादातर इलाकों में बीते दो दिनों से मूसलाधार बारिश हो रही है। जिस कारण जिले में कई जगहों पर भूस्खलन की घटनाएं सामने आ रही हैं। कई जगहों पर सड़कें बाधित हो गई हैं।

यह भी पढ़ें 👉 छम्मी ने घुंघट की आड़ में कर डाला एसा काम, हिला कर रख दिया पुरे पुलिस महकमे को।

इसके साथ ही विधुत लाइनों में पेड़ गिरने से बिजली आपूर्ति भी कई जगहों पर बाधित है।

मुख्य बिंदु

पिथौरागढ़ में दो दिन से हो रही मूसलाधार बारिश 24 घंटे में थल में हुई 180 एमएम बारिश रौंगती नाले के पास भारी मलबा आने से मार्ग बाधित पिथौरागढ़ में दो दिन से हो रही मूसलाधार बारिश
सीमांत जिले पिथौरागढ़ में बीते दो दिनों से मूसलाधार बारिश हो रही है।

यह भी पढ़ें 👉 निजी अस्पतालों के दलालों की गिरफ्त में है हल्द्वानी का सुशीला तिवारी अस्पताल।

भारी बारिश के चलते सीमांत में जनजीवन अस्त- व्यस्त हो गया है। लगातार हो रही बारिश के कारण कई लोगों के मकानों में दरारें आ गई हैं। इसके साथ ही कई जगहों पर भूस्खलन के कारण मलबा आने से सड़कें बाधित हो गई हैं।

24 घंटे में थल में हुई 180 एमएम बारिश

बीते 24 घंटे में थल में सबसे ज्यादा 180 एमएम तो बेरीनाग में 130 एमएम बारिश रिकॉर्ड की गई। बारिश के कारण मुनस्यारी-थल सड़क बनिक के समीप मलबा और पत्थर गिरने लगे। जिस कारण सड़क चार घंटे तक बंद रही। इसके साथ ही बारिश के बाद नाचनी के फल्याटी में भी सड़क पर मलबा आ गया।

यह भी पढ़ें 👉 देश को खुले में शौच मुफ्त करने का दावा करने वाले प्रधानमंत्री मोदी की उत्तराखंड की डबल इंजन वाली सरकार के राज्य में 2617 स्कूलों में शौचालय ही नहीं है, बरसात के मौसम में परेशान हैं छात्र छात्राएं।

जिस कारण सड़क बंद हो गई। धापा-मिलम मोटर मार्ग भी मलबा आने से बंद है रौंगती नाले के पास भारी मलबा आने से मार्ग बाधित भारी बारिश के कारण धारचूला-मुनस्यारी के कई मोटर मार्ग बंद हो गए हैं। इसके साथ ही चीन सीमा को जोड़ने वाली मुनस्यारी मिलम सड़क भी बाधित हो गई है। सड़क के बंद होने से 60 गांवों का संपर्क कट गया है। तवाघाट-लिपुलेख मोटर मार्ग बंद होने के तीन दिन बाद भी इसे खोला नहीं जा सका है।

यह भी पढ़ें 👉 पंतनगर, खॉकी को दागदार करने वाले निलंबित एसएचओ राजेन्द्र सिंह डांगी के खिलाफ हुआ मुकदमा दर्ज।

तीसरे दिन भी आदिकैलाश यात्री उच्च हिमालयी इलाकों में फंसे है। इसके साथ ही धारचूला-तवाघाट मोटर मार्ग में रौंगती नाले के पास मलबा आ गया। मलबा आने से ये मार्ग भी बाधित हो गया है। गनीमत रही कि जिस वक्त मलबा आया उस वक्त वहां पर कोई मौजूद नहीं था। वरना कोई बड़ा हादसा हो सकता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *