अल्मोड़ा जिले के ताड़ीखेत विकास खंड में खेत में काम कर रही नाबालिग के साथ पौड़ा कोठार गांव के युवक ने किया दुष्कर्म।

न्यूज़ 13 प्रतिनिधि अल्मोड़ा

अल्मोड़ा/ उत्तराखंड के पर्वतीय ग्रामीण इलाकों में भी अब महिलाएं सुरक्षित नहीं रही। अल्मोड़ा जिले के विकास खंड ताड़ीखेत में एक 14 वर्षीय अनुसूचित वर्ग की गरीब नाबालिग किशोरी के साथ दुष्कर्म की घटना सामने आयी है। राजस्व पुलिस ने आरोपि युवक के विरुद्ध पॉक्सो व एससीएसटी एक्ट सहित संबंधित धाराओं में अभियोग दर्ज करने के साथ आरोपित को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेज दिया है।

यह भी पढ़ें 👉 बड़ा सियासी घटनाक्रम, दिग्गज भाजपा नेता कैबिनेट मंत्री ने पद से दिया इस्तीफा, पहले ही कर चुके थे इस्तीफे की पेशकश।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक अल्मोड़ा जिले के ताड़ीखेत विकास खंड के एक गांव की गरीब अनुसूचित जाति के व्यक्ति ने बीती 29 जून को स्थानीय पटवारी चौकी में लिखित शिकायत दे कर बताया कि 28 जून को उसकी 14 वर्षीय नाबालिग बेटी खेत में काम कर रही थी। इस बीच पौड़ा कोठार गांव का निवासी युवक गोपाल सिंह डोगरा पुत्र प्रताप सिंह वहां आया और उसे बहला-फुसला कर अपने साथ ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। इसकी जानकारी नाबालिग ने घर आकर अपने परिजनों को दी।

यह भी पढ़ें 👉 पंतनगर, खॉकी को दागदार करने वाले निलंबित एसएचओ राजेन्द्र सिंह डांगी के खिलाफ हुआ मुकदमा दर्ज।

शिकायत मिलने पर मामले की गंभीरता को देखते हुए तुरंत राजस्व पुलिस ने नामजद आरोपित के विरुद्ध विभिन्न संबंधित धाराओं में अभियोग दर्ज किया और नामजद आरोपित की खोज की। मामले की जांच कर रहे नायब तहसीलदार हेमंत माहरा ने बताया कि आरोपित को कोटगांव से गिरफ्तार किया गया और न्यायालय में पेश करके जेल भेज दिया गया है। आरोपित को गिरफ्तार करने वाली टीम में राजस्व उपनिरीक्षक विनोद टोलिया, प्रदीप बिजल्वाण व पीआरडी जवान राजेंद्र शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *